करोड़ों का चारा खाकर डकारने वाले का आखिर कैसे दिवालिया निकला ?

0
696
लालू दिवालिया क्यों |gandhi ka chashma |bakwas

लालू दिवालिया घोषित

बिहार से खबर आ रही है की, RJD प्रमुख लालू प्रसाद यादव, अपने आप को दिवालिया घोषित करने वाले है, आखिर कैसे लालू प्रसाद यादव इस कगार पर पहुंच गए? पूर्व रेलमंत्री व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके लालू ज्यादा तो अपनी चटुकारिता भरी बोली के लिए भारतीय राजनीती में जाने जाते हैं। पिछले महीने महागठबंधन छोड़ , NDA में शामिल हुए नितीश कुमार के बाद, यह बिहारभारत की राजनीती में बड़ी खबर आ रही है।

तेजस्वी की फिजूलखर्ची

गुप्त सूत्रों का कहना है, की लालू तेजस्वी प्रताप यादव की फिजूलखर्ची से परेशान थे, उन्होंने बार बार समझाया भी, की वह देख कर पैसों का प्रयोग करे, सरकार की उन पर नजरें बड़ी तीखी है, इस पर तेजस्वी कहते है-पप्पा, तुम देखो मैं कैसे कमाता हूँ आप ने तो चारा खाकर पैसा कमाया, मैं तो कूड़ा कचरा खाकर भी कमा सकता हूँ, क्योकि मोदी सरकार रिसाईकिल व रीयूज  प्लांट लगाने पर मोटा पैसा दे रही है।

bakwas |gandhi ka chashma

आखिर क्या हुआ लालू के साथ

जब से लालू नितीश ने मिलकर बिहार की गद्दी संभाली थी, तब से सुनने में आ रहा था, लालू का व्यापार बढ़ रहा है, राज्य में गुंडागर्दी बढ़ रही थी, लालू के गुंडों के पास भी पैसा आ गया था, जो की लालू के सत्ता से बाहर रहने से खत्म हो या था, लालू ने अपने व्यापारी दोस्तों से बहुत सा पैसा उधार भी लिया हुआ था। जो की सरकार से बाहर, होने पर चुकाना मुश्किल हो गया था। परन्तु सच्चाई तो कुछ और ही लग रही है।

मीसा पर हस्पताल चलाने का दबाव

मीसा भारती पर CBI रेड पड़ने पर, CBI अफसर सारा कैश ले गए व एक भी पैसा वापिस नहीं दिया, लालू जी ने मीसा से आग्रह भी किया की, बिटिया तुम डॉक्टर हो, थोड़े दिन अपना क्लिनिक ही खोल लो, इस पर मीसा ने इंकार कर दिया। अटकलें लगाई जा रही है की मीसा के पास डॉक्टर की डिग्री तो है, और उन्होंने टॉप भी किया था, कहीं वह भी बिहार बोर्ड के टॉपर्स की तरह न निकले और मीसा को अपना राजनैतिक अस्तित्व बचाना मुश्किल न हो जाये।

राबड़ी के बढ़ते नखरे

पता चला है की  राबड़ी देवी, अपने दोनों लड़कों के लिए दुल्हन ढूंढ रहीं है, लड़कियां को देखने के लिए देश विदेश के चक्कर लगा चुकी है, और इन यात्राओं में उन्होंने बहुत से पैसे भी बर्बाद कर दिए है। लालू प्रसाद यादव ने लड़कों के लिए घरेलू लड़की चाहिए, जो उनकी भैसों का दूध निकाल सके बढ़ती उम्र के कारण लालू से अब दूध नहीं निकाला जाता और भैसे भी लालू के अलावा परिवार वालों को ही दूध देना पसंद करती है।

राबड़ी देवी को घरेलू कामों में निपूर्ण बहु चाहिए, क्योंकि घर के प्रमुख कमरों में परिवार के सदस्यों के सिवाय किसी भी नौकर चाकर के प्रवेश की अनुमति नहीं है। क्योकि प्रमुख कमरों में करोड़ों की सम्पत्ति होने का दावा हमारे गुप्त सूत्रों ने किया है, वहीं लालू के बेटों  का कहना है आप लोग हमारे लिए बहु ला रहे हो या अपने लिए नौकरानी, हम दोनों को तो ऐसी पत्नी चाहिए जिसके सामने कटरीना कैफ भी फ़ैल हो। इस लिए राबड़ी जी को बच्चों की मांगे मानने के लिए बड़ी बड़ी यात्राएं करनी पड़ रहीं हैं।

gandhi ka chashma flipkart offer

दिवालिया होने का राज गहराया

गुप्त सूत्रों के अनुसार, लालू के पास करोड़ों रूपये की धनराशि होने के बाद भी, आखिर लालू खुद को क्यों दिवालिया घोषित करने पर लगे है, तेजस्वी के करीबी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया की, जनता में अपनी छवि बनाए रखने के लिए और आने आप को, ईमानदार वाली छवि में स्थपित करने के लिए लालू ऐसा कर रहे है।

amazon.in offers on gandhi ka chashma

दिवालिया होने के पीछे लालू का बड़ा दाव

लालू एक तीर से कई शिकार करने के मूढ़ में हैं, उनको पता है, वह स्थाई राजनीती से बाहर हो चुके है और अब बच्चों का समय है तो लालू खुद को दिवालिया घोषित कर बच्चों का भविष्य बचाने में लगे हैं, दुसरा लगातार नितीश व बीजेपी के आरोपों का पलटवार करने हुए लालू व विपक्ष अपनी ईमानदार वाली छवि जनता को दिखाना चाहता है, सत्ता पक्ष पर हमलों में तेजी कर लालू नितीश पर घोटालों के आरोप भी लगाएंगे। लालू अपना मकान बेचकर अपने गाँव जा सकते है, जहां पर उनका पुश्तैनी मकान है और वहां से सादा जीवन जीने वाली साधारण बिहारी नेता  के रूप में अपने आप को दिखा सकते हैं।

विरोधियों की तीखी टिप्पणियां

शाहनवाज हुसैन : सूना था 100 चूहे खाकर बिल्ली चली हज को , यहाँ तो १०० चूहे खाकर बिल्ली खाने चली हज को।

राम विलास पासवान :बुरे काम का बुरा नतीजा ” क्यों भाई लालू , क्यों तेजस्वी “

मोदी ट्वीट से : गरीवों का खाने वालों, जनता तुम से पाई पाई का हिसाब लेकर रहेगी , दिवालिया होने से बचोगे थोड़ी न।

राहुल गाँधी : मुझे दुःख है लालू जी कुपोषण का शिकार न हो जाए,
उनसे कहूंगा, अपना गरीब घर किसी होटल के पास बनाये मुझे उस में खाना खाने में परेशानी नहीं होगी।

दिग्विजय सिंह : लालू जी तो कमजोर दिल के निकले , हमें देखो ना इतना खाकर भी शेर की तरह दहाड़ रहे है, शेर हूँ शेर।

पप्पू यादव : हमारे खून पसीने की कमाई भी लालू ने खायी है, भगवान् सबको उनके कर्मों की सजा एक दिन जरूर देता है।

शत्रुघन सिन्हा : अब हमारा क्या होगा , कालीचरण – लालू, ये तूने क्या किया ?

bakwas | gandhi ka chashma |rahul trolls