जब गाँधी जी की धोती पहन कर खड़े हो गए राहुल

0
358
rahul bapu ka awtar bakwas

ये वाक्या कुछ दिन पहले का है जब राहुल गुजरात गए थे और उनके ऊपर पत्थर भी बरसे थे। ये वाक्या किसी भी मिडिया ने शेयर और प्रसारित नहीं किया। हमें अपने गुप्त सूत्रों से इसका पता चला।

राहुल जब अपने गुजरात दौरे पर थे तो वे अहमदाबाद के साबरमती आश्रम जा पहुंचे। राहुल को वहां जाकर पनीरसेल्वम की तरह अंतर आत्मा का अटैक  पड़ गया। जहां संग्रहालय में गाँधी जी का समान आदि, दर्शकों -पर्यटकों के देखने के लिए रखा है वहां गए, राहुल ने वहां से सभी को बाहर जाने का निवेदन किया। सब ने राहुल की बात मान ली और वहां से बाहर चले गए। वहां राहुल अकेले थे, लेकिन कोई एक था जो चुपके से छिप कर राहुल को देख रहा था।

राहुल ने संग्रहालय में क्या किया

फिर राहुल वहां पर मौजूद गाँधी जी की बिस्तरे पर आसन लगा कर बैठ गया और आँखे बंद कर ली। एक घंटे तक राहुल ध्यान लगाने की मुद्रा में बैठे रहे। एक घंटे बाद राहुल ने धिरे से आंखे खोली तो राहुल ने इधर उधर हाथ मारना शुरू किया। एक मिनट  तक हाथ मारने पर उनको एक चश्मा मिला जो की गाँधी जी का था। उसको आँखों पर पहन लिया, जिसके बाद वे कुछ शांत हुए। फिर बूढ़ों की तरह खाँसते हुए अपने घुटनो पर हाथ रखकर उठे जैसे की एक बूढ़ा उठता है।

फिर अपने पजामें पर हाथ मारा और अपना पजामा उतार कर गाँधी जी की धोती पहन ली और फिर अपना कुर्ता उतार फेंक दिया। देखने में तो ऐसा लग रहा था, जैसे गाँधी जी का भूत राहुल में घुस गया हो। उनके बाद अपना मोबाइल उठाया और सोनिया जी को वीडियो कॉल की। सोनिया जी ने कॉल रिसीव की।

राहुल की सोनिया से फ़ोन पर वीडियो कॉल

सोनिया बोली बोलो राहुल क्या बात है कहाँ हो। तो राहुल ने अटपटे से लहजे में जवाब दिया। कौन राहुल, मैं राहुल का पड़ दादा हूँ बहुरानी। पहले तो राम राम करो मुझे, अपने से बड़ों को राम राम करते हैं, भारत में रहते इतने साल हो गए, तुम्हे इतना भी नहीं पता। निकम्मी, फिरंगण कहीं की,अपने से बड़ों से बोलने के तमीज भी नहीं है तुमको, सबको मनमोहन समझ कर रखा है।

ये देख कर सोनिया को कुछ भी समझ में नहीं आया, की क्या हो रहा है, राहुल आज क्यों ऐसे सच्च में पप्पुओं की तरह पागलों वाली बातें कर रहा है।

gandhi ka chashma flipkart offer

सोनिया को समझ में आया सारा माजरा

अब सोनिया को समझ में आ चूका था की आज तो राहुल पर सीनियर गाँधी सवार है उसने तुरंत फ़ोन कॉल काटी और उनके सुरक्षा इंचार्ज को फ़ोन किया, तुम सब कहाँ मर गए हो भाग कर राहुल के पास जाओ और उस बूढ़े से पीछा छुड़वाओ, जल्दी करो। नहीं तो वो पप्पू पागल भी हो जाएगा।
सुरक्षा कर्मी भाग कर अंदर गए और वहां के सबसे गंदे सफाईकर्मी की जुराब लेकर राहुल को सुंघाई जिससे राहुल बेहोश हो गए। 15 मिनिट बाद राहुल को होश आया तो, मैं गाँधी जी के कपड़ों में क्या कर रहा हूँ। फिर वहां लगे शीशे में अपने आप को देखा और देखते ही रह गए।

होश में आने के बाद राहुल

राहुल बोले : दादा जी तुम तो ग्रेट हो , वाह का लग रहा हूँ मैं, अगर इन कपड़ों में मैं आ जाऊं, तो पुरे देश में मुझे हराने वाला कोई नहीं है, देश का सबसे बड़ा संत तो मैं ही बन जाऊँगा। चलो आज जनता में ये ही कपड़े पहन कर जाता हूँ और आज अपनी सिक्योरिटी को भी यहीं छोड़ देता हूँ। जनता आज से ही मेरा साथ साथ चल पड़ेगी। वो अपने सिक्योरिटी इंचार्ज को बोलने ही वाला था तभी सोनिया गाँधी का फ़ोन आ गया।

amazon.in offers on gandhi ka chashma

सोनिया को गुस्सा आया

राहुल तेरे में अक्ल है की नहीं , अपने कपड़े पहनों, उतारो दादा के कपड़े, नहीं तो बाहर निकलते ही कुत्ते काट लेंगे तुझे। इतनी हिम्मत है तुम मे की, अपने दादा और केजरी की तरह थप्पड़ खा सको।
राहुल ने एक मिनिट भी नहीं लगाई कपड़ उतारने में और वहां से चलता बना।

LATEST NEWS

जब गाँधी जी की धोती पहन कर खड़े हो गए राहुल

ये वाक्या कुछ दिन पहले का है जब राहुल गुजरात गए थे और उनके ऊपर पत्थर भी बरसे थे। ये वाक्या किसी भी मिडिया...
narender modi amit shah friendship

मोदी शाह की दोस्ती

नरेंद्र मोदी अमित शाह दोस्ती आज भारतीय राजनीति की दो ही धुरी हैं। एक नरेंद्र मोदी और दूसरे अमित शाह, इन दोनों ने मिलकर इस...
HARIYAN KE BHAKT

कश्मीर की राह पर हरियाणा

हरियाणा में हुई हिंसा बाबा राम रहीम पर हुई हिंसा में 30 से ज्यादा लोग मारे गए और सैंकड़ों घायल हो गए है। मीडिया ने...

POPULAR ARTICLES

कड़वी सचाई | gandhi ka chashma |जलता-पंचकूला

सेक्युलरिज्म (धर्मनिरपेक्षता ) के ठेकेदारों बहुत हो गया अब तो समझ जाओ।

पंचकूला की घटना का सबसे बड़ा कारण- धर्मनिरपेक्ष भारत राम रहीम : भारत की धर्मनिरपेक्षता का फल राम रहीम ने 15 साल पहले क्या किया...
हम दिल्ली को लंदन बना देंगे अगर

हम दिल्ली को लंदन बना देंगे अगर

हम दिल्ली को लंदन बना देंगे अगर MCD में  हमारी सभी 270 सीटें आ गयी तो : केजरीवाल दिल्ली के माननीय मुख्यमंत्री का कहना है...

जाट रेजिमेन्ट के बारे में पाकिस्तान की राय

जाट रेजिमेन्ट के बारे में पाकिस्तानी सेना की राय में जाट नहीं होते तो क्या होता ? पाकिस्तानी सेना के  रिटायर्ड मेजर, जनरल फैजल...

LATEST REVIEWS

कड़वी सचाई | gandhi ka chashma |जलता-पंचकूला

सेक्युलरिज्म (धर्मनिरपेक्षता ) के ठेकेदारों बहुत हो गया अब तो...

पंचकूला की घटना का सबसे बड़ा कारण- धर्मनिरपेक्ष भारत राम रहीम : भारत की धर्मनिरपेक्षता का फल राम रहीम ने 15 साल पहले क्या किया...